re-use-plastic

 इंदौर के 56 दुकान मार्केट में प्रदेश की अनूठी मशीन लगाई गई है, जो प्लास्टिक बॉटल और पॉलिथीन के छोटे टुकड़े कर कर उससे दाने बनाएगी। ये दाने प्लास्टिक रिसाइकिल यूनिट को दिए जाएंगे जिससे वे कुर्सी ,बकेट, मग और अन्य तरह का सामान बना सकेगी। 56 दुकान व्यापारी एसोसिएशन ने यह काम नगर निगम के सहयोग से किया है। मेक इन इंडिया के तहत नई दिल्ली में बनाई गई इस मशीन की लागत लगभग 10 लाख रुपए है।

56 दुकान से रोज बड़े पैमाने पर प्लास्टिक बॉटल और पॉलिथीन निकलती है इसलिए यह मशीन यहां लगाई गई है। इससे बाजार के कचरे का वहीं निपटान हो जाएगा। 56 दुकान पर ही दोना कटर मशीन लगाई जा रही है जो दोनों के बारीक टुकड़े कर देगी ताकि उन्हें एक ड्रम में ज्यादा से ज्यादा मात्रा में ले जाया जा सके।

बुधवार को इस मशीन का लोकार्पण महापौर मालिनी गौड़, विधायक महेंद्र हार्डिया और निगमायुक्त मनीष सिंह ने किया। कार्यक्रम में बताया गया कि मध्यप्रदेश में सबसे पहले इंदौर में इस तरह की मशीन लगाई गई है। मशीन का नाम ही ‘स्वच्छ भारत मशीन’ है।

क्रश मशीन के बारे में अफसरों ने बताया कि साबुत बॉटल को रिसाइकिल में ले जाना है तो वह ज्यादा जगह घेरेगी। एक ड्रम में बमुश्किल 100 बॉटल जा पाएंगी। क्रश मशीन से उनके दाने बन जाएंगे तो हजारों बॉटल का कचरा एक ड्रम में समा सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *