Hot News Politics

जब अटल बिहारी वाजपेयी बैलगाड़ी से पहुंचे संसद, देखें पूर्व प्रधानमंत्री की 10 Rare Unseen Photos

अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रधानमंत्री के रूप में तीन बार देश का नेतृत्व किया है. वे पहली बार साल 1996 में 16 मई से 1 जून तक, 19 मार्च 1998 से 26 अप्रैल 1999 तक और फिर 13 अक्टूबर 1999 से 22 मई 2004 तक देश के प्रधानमंत्री रहे हैं. उनकी कई ऐसी तस्वीरें हैं जो बहुत कम लोगों ने देखी होंगी. हम आपको बताने जा रहे हैं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 10 Rare Photos  

 

 

 

 

 

 

 

1. माधव सदाशिव गोलवालकर, पंडित दीन दयाल उपाध्याय और अटल बिहारी वाजपेयी एक साथ बैठे नजर आ रहे हैं. ये तस्वीर भी काफी शेयर की जा रही है.

 

 

 

 

 

 

 

2.सोशल मीडिया पर ये तस्वीर काफी वायरल हो रही है. जिसमें वो प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से बात करते नजर आ रहे हैं. 

 

 

 

 

 

 

 

3.12 नवंबर 1973 में अटल बिहारी वाजपेयी बैलगाड़ी से संसद पहुंचे थे. वो पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने का विरोध कर रहे थे इसलिए वो बैलगाड़ी से पहुंचे.

 

 

 

 

 

 

 

4. ये दुर्लभ तस्वीर  में अटल बिहारी वाजपेयी, लाल कृष्ण आडवाणी और भैरों सिंह शेखावत नजर आ रहे हैं. ये तस्वीर जन संघ दिनों की है.

 

 

 

 

 

 

 

 

5. 1991 में पार्टी मीटिंग के दौरान एल.के. आडवाणी और अटल बिहारी वाजपेयी चर्चा करते हुए

 

 

 

 

 

 

 

6. अटल बिहारी वाजपेयी अपने पालतू कुत्तों के साथ.

 

 

 

 

 

 

 

7. डीएमके के संस्थापक एम. करुणानिधि के साथ अटल बिहारी वाजपेयी.

 

 

 

 

 

 

 

8. जन्मदिन के दिन केक काटते हुए अटल बिहारी वाजपेयी.

 

 

 

 

 

 

 

9. फिल्म फेयर अवॉर्ड्स में संजीव कुमार और राखी ने अटल बिहारी वाजपेयी से अवॉर्ड लिया था. उस समय अटल बिहारी वाजपेयी एक्सटर्नल अफेयर्स मिनिस्टर थे.

 

 

 

 

 

 

 

10. 1980 की तस्वीर. बॉम्बे के बांदरा में अटल बिहारी वाजपेयी की रैली. 

आजीवन राजनीति में सक्रिय रहे अटल बिहारी वजपेयी लम्बे समय तक राष्ट्रधर्म, पाञ्चजन्य और वीर अर्जुन आदि पत्र-पत्रिकाओं के सम्पादन भी करते रहे हैं. वाजपेयी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के समर्पित प्रचारक रहे हैं और इसी निष्ठा के कारण उन्होंने आजीवन अविवाहित रहने का संकल्प लिया था. सर्वोच्च पद पर पहुंचने तक उन्होंने अपने संकल्प को पूरी निष्ठा से निभाया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *